देश के सभी नागरिको को एक ही राशन कार्ड की मदद से देश के किसी भी हिस्से में राशन का लाभ देने के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक देश एक राशन कार्ड योजना (One Nation One Ration Card) लागू की जा चुकी है। इस योजना के तहत पात्र नागरिक देश के किसी भी हिस्से में राशन कार्ड की मदद से राशन प्राप्त कर सकते है। सरकार द्वारा अब इस सिस्टम का केंद्रीकरण किया जा चुका है ऐसे में नागरिक आसानी से देश के किसी भी हिस्से में अपने हिस्से का राशन प्राप्त कर सकते है। एक देश एक राशन कार्ड योजना 2023 देश के हर एक नागरिक को राहत पहुंचाएगी | इस योजना के शुरू होने से सभी नागरिको को काफी फायदा होगा |

एक देश एक राशन कार्ड योजना का संक्षिप्त विवरण

वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने गुरुवार को इस योजना के तहत नई घोषणा की है | लॉक डाउन की वजह से देश के जो गरीब लोग परेशान है उन्हें इस नई घोषणा के ज़रिये राहत पहुंचाई जाएगी | इस वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत देश के 23 राज्यों के 67 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा। पीडीएस योजना के 83 फीसदी लाभार्थी इससे जोड़े जाएंगे। इस योजना के अंतर्गत मार्च तक इसमें 100 फीसदी लाभार्थी जुड़ जाएंगे। देश के नागरिक देश के किसी भी कोने से अपने राशन कार्ड के माध्यम से उचित मूल्य पर राशन की दुकान से राशन ले सकते हैं।

एक देश एक राशन कार्ड योजना के लाभ

  1. यह योजना सभी एन.एफ.एस.ए लाभार्थियों, विशेष रूप से प्रवासी लाभार्थियों को सहज तरीके से बायोमेट्रिक / आधार प्रमाणीकरण के साथ मौजूदा राशन कार्ड के माध्यम से देश भर में किसी भी उचित मूल्य की दुकान (एफ.पी.एस.) से पूर्ण या आंशिक अनाज की मांग करने की अनुमति देती है।
  2. यह योजना उनके परिवार के सदस्यों के घर वापस जाने पर, यदि कोई हो, उसी राशन कार्ड से शेष बचे अनाज की मांग करने की भी अनुमति देती है
  3. इसके अलावा, ओ.एन.ओ.आर.सी लाभार्थियों को अपना डीलर चुनने का मौका भी देगा। गलत आवंटन के कई मामलों की स्थिति में, अगर कोई गड़बड़ी का मामला है तो लाभार्थी किसी अन्य एफ.पी.एस दुकान पर तुरंत स्विच कर सकता है।

एक देश एक राशन कार्ड योजना के मुख्य बिन्दु

योजना का नामOne Nation One Ration Card Yojana
मंत्री जिन्होंने इसकी घोषणा की श्री राम विलास पासवान
उद्देश्ययह सुनिश्चित करने के लिए कि कोई भी व्यक्ति सब्सिडी वाले खाद्यान्न प्राप्त करने से वंचित न रहे  
योजना की समय सीमा30 जून 2030
लाभार्थीअखिल भारतीय राशन कार्ड धारक
नोडल एजेंसीभारतीय खाद्य निगम

एक देश एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य

  • एक देश एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य है कि देश में फ़र्ज़ी राशन कार्ड को रोकने में मदद मिलेगी और देश में चल रहे भष्टाचार को रोका जा सकेगा |
  • इस योजना के लागू होने के बाद यदि कोई व्यक्ति एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाता है तो उसे राशन लेने में कोई परेशानी नहीं होगी |
  • इस एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम का फायदा प्रवासी मजदूरों को अधिक होगा | इन लोगो को पूरी खाद्य सुरक्षा मिलेगी|
  • केंद्र सरकार इस योजना को समय रहते ही पुरे देश के विभिन्न राज्यों में आरम्भ करना चाहती है जिससे अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ उठा सके |

एक देश एक राशन कार्ड की विशेषताएं

  • केंद्र सरकार द्वारा प्रवासी नागरिकों को राशन उपलब्ध करवाने के लिए एक देश एक राशन कार्ड योजना का आरंभ किया गया था।
  • इस योजना के माध्यम से कम कीमत पर खाद्य पदार्थ जैसे गेहूं चावल आदि मुहैया कराया जाता है। इस योजना के अंतर्गत देश का कोई भी नागरिक किसी भी पीडीएस शॉप से अपने राशन की प्राप्ति कर सकता है।
  • सभी राशन कार्ड धारकों द्वारा इस योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है।
  • इस योजना को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत आरंभ किया गया था।
  • One Nation One Ration Card में देश की 5.25 लाख राशन की दुकानें शामिल है।
  • इस योजना के अंतर्गत बायोमीट्रिक सिस्टम के माध्यम से राशन मुहैया कराया जाता है।
  • इसके अलावा 65 साल से ज्यादा आयु के नागरिकों को एवं दिव्यांगों को राशन की होम डिलीवरी भी की जाती है।
  •  इस योजना के सफलतापूर्वक संचालन के लिए सरकार द्वारा मेरा राशन ऐप लॉन्च किया गया है।
  • इस ऐप के माध्यम से यह चेक किया जा सकता है कि आप को कितना राशन मिलेगा।

एक देश एक राशन कार्ड की चयन प्रक्रिया

जैसे की आप सभी लोग जानते है कि राशन कार्ड को सभी राज्य सरकार द्वारा दो तरह से जारी किये जाते है जिसमे पहली है एपीएल राशन कार्ड  और दूसरा है बीपीएल राशन कार्ड। लोगो की आय के आधार पर एपीएल और बीपीएल राशन कार्ड उनको दिए जाते है।  इसी प्रकार एक देश एक राशन कार्ड की भी चयन प्रक्रिया इसी आधार पर की जाएगी। एपीएल राशन कार्ड केटेगरी में कौन से लोग आते है और बीपीएल केटेगरी में कौन से लोग आते है इसकी पूरी जानकारी आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बताने जा रहे है।

  • एपीएल  केटेगरी – इस केटेगरी में उन लोगो को रखा जाता है जो गरीबी रेखा से ऊपर जीवन यापन कर रहे है। उन लोगो को एपीएल राशन कार्ड प्रदान किया जाता है। अगर आप आर्थिक रूप से सक्षम है तो उन्हें एपीएल राशन कार्ड के लिए आवेदन करना होगा।
  • बीपीएल केटेगरी  – इस केटेगरी के अंतर्गत देश के उन लोगो को रखा जाता है जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे है। उन लोगो को बीपीएल राशन कार्ड प्रदान किया जाता है। अगर आप  गरीबी रेखा से नीचे आते है तो उन्हें  बीपीएल राशन कार्ड के लिए अप्लाई करना होगा।

एक देश एक राशन कार्ड योजना में आवेदन कैसे करे?

देश के किसी भी राशन कार्ड धारक को एक देश एक राशन कार्ड योजना के अंतर्गत किसी भी तरह का ऑनलाइन तथा ऑफलाइन आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है सभी राज्य  और केंद्र सरकार स्वयं उपलब्ध आकड़ो के अनुसार लाभार्थियों के राशन कार्ड फ़ोन पर आधार कार्ड से सत्यापित कर लिंक करेंगी | इसके बाद इंटीग्रेटेड मैनेजमेंट पब्लिक डिस्टीब्यूशन सिस्टम के अंतर्गत आकड़ो को उपलब्ध कराएगी | जिससे पात्र सभी नागरिक देश के किसी भी कोने से अपने हिस्से का राशन ले सकेंगे |

राशन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Start Now के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपना एड्रेस दर्ज करना होगा।
  • अब आपको राशन कार्ड बेनिफिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपना Aadhar Card Number, Ration Card Number, Email Address तथा Mobile Number दर्ज करना होगा।
  • अब आपके Registered Mobile Number पर एक ओटीपी आएगा।
  • आपको इस OTP को ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर प्रोसेस कंप्लीट का मैसेज आएगा।
  • इस प्रकार आप अपने राशन कार्ड को आधार से लिंक कर सकते हैं।

वन नेशन वन राशन कार्ड टोल फ्री नंबर

देश के अगर किसी व्यक्ति को वन नेशन वन राशन योजना के अंतर्गत कोई परेशानी और असुविधा है और वह इस सम्बन्ध में कोई शिकायत करना चाहते है तो वह उनके लिए केंद्र सरकार ने इस योजना के तहत टोल फ्री नंबर 14445 जारी किया है। इस टोल फ्री नंबर पर ‘वन नेशन कार्ड‘ सुविधा का उपभोग करने वाले राशन कार्ड लाभार्थी संपर्क कर अपनी शिकायत व समस्या दर्ज करा सकते हैं। और समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते है। इस योजना के अंतर्गत 31 मार्च तक पूरे देश में 81 करोड़ लाभार्थियों को इसका लाभ प्राप्त होगा।

अस्वीकरण: इस लेख में साझा की गई जानकारी विभिन्न समाचार वेबसाइटों से है। और हम आपके साथ किसी भी प्रकार की त्रुटि या तीसरे पक्ष की धोखाधड़ी के लिए ज़िम्मेदार नहीं हैं।अपनी जानकारी किसी भी अनधिकृत वेबसाइट या फर्जी वेबसाइट के साथ साझा न करें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *