Swamitva Yojana:- दोस्तों आज हम आपको प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के बारे में बता रहे हैं की स्वामित्व योजना क्या है इसके लाभ पात्रता और ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन। जैसे कि आप लोग जानते हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजीटल इंडिया का सपना देखा है और वह समय समय पर इसी सपनों को पूरा करने के लिए किसी ने कैसी ऑनलाइन योजना की शुरुआत करते रहते हैं। देश की उन्नति करना चाहते हैं इसी डिजिटल इंडिया को बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री पीएम मोदी ने ग्रामीण Swamitva Yojana की शुरुआत की। इस योजना के अंतर्गत पीएम मोदी ने एक नए ई-ग्राम स्वराज पोर्टल की शुरुआत की है। इस पोर्टल पर ग्राम समाज से जुड़ी सभी समस्याओं की जानकारी रहेगी और इस पोर्टल के माध्यम से किसान अपनी भूमि की जानकारी ऑनलाइन देख सकेंगे पंचायती राज मंत्रालय ने ई ग्राम स्वराज पोर्टल की शुरुआत की है |


Table of Contents

स्वामित्व योजना 2023

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से भू मालिकों को स्वामित्व योजना के तहत सम्पति कार्ड वितरित करने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री जी ने कहा है कि इस योजना के अंतर्गत देश के लगभग एक लाख प्रॉपटी धारको के मोबाइल फ़ोन पर एसएमएस के माध्यम से एक लिंक भेजा जायेगा। जिसके माध्यम से देश के प्रॉपटी धारक अपना प्रॉपटी कार्ड डाउनलोड कर सकते है। इसके बाद संबंधित राज्य सरकारें संपत्ति कार्ड का फिजिकल वितरण करेंगी । गांव के लोगों को इस योजना के माध्यम से अब बैंक से लोन मिलने में भी आसानी होगी। सूत्रों के अनुसार 11 अक्टूबर 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी हरियाणा के 221, उत्तर प्रदेश के 346, महाराष्ट्र के 100, मध्य प्रदेश के 44, उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक के दो गांवों के नागरिकों को आबादी की जमीन के मालिकाना हक के कागज सौंपेगे।

इस योजना के माध्यम से लोगों की संपत्ति का डिजिटल ब्यौरा रखा जा सकेगा। PM Swamitva Yojana के अंतर्गत राजस्व विभाग द्वारा गांव की जमीन की आबादी का रिकॉर्ड एकत्रित करना शुरू कर दिया गया है। इसी के साथ विवादित जमीनों के मामले के निपटारे के लिए डिजिटल अरेंजमेंट भी राजस्व विभाग द्वारा शुरू किया गया है।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का उद्देश्य

योजना का नामPM Swamitva Yojana
विभागपंचायती राज मंत्रालय
घोषणापीएम मोदी द्वारा 24 अप्रैल 2020
आरंभ तिथि24 अप्रैल 2020
उद्देश्यलोन लेने में सुविधा
वेबसाइटegramswaraj.gov.in

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का उद्देश्य

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोनावायरस संकट के बीच में भी देश में फैली हजारों ग्राम पंचायतों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा संबोधित किया और इस योजना की शुरुआत भी की वैसे तो 24 अप्रैल का दिन पंचायती राज दिवस के रूप में मनाया जाता है लेकिन कोरोनावायरस के संकट को देखते हुए पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा ही किसानों को संबोधित किया PM Swamitva Yojana का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण किसानों की जमीनो की ऑनलाइन देखरेख मुहैया कराना जमीनों की मैपिंग और उनके सही मालिकों को उनका हक दिलाना जमीनी प्रक्रिया में पारदर्शिता लाना ग्रामीणों के हक में इस योजना के तहत काम किया जाएगा।

पीएम स्वामित्व योजना पूरे देश में लागू होगी

यूनियन बजट 2021-22 की घोषणा करते समय हमारे देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा स्वामित्व योजना को पूरे देश में लागू किए जाने की घोषणा की गई है। अक्टूबर 2020 में स्वामित्व योजना को आरंभ किया गया था। इस योजना के अंतर्गत गांव के लोगों को उनके जमीन के दस्तावेज प्रदान किए जा रहे हैं। इस योजना के प्रथम चरण में उत्तर प्रदेश के प्रत्येक जिले से 20-20 गांवों का चयन किया गया था। इसके लिए इन सभी 75 जिलो में सर्वे भी शुरू कर दिया गया था। अब इस योजना के माध्यम से गांव के नागरिकों को संपत्ति के अधिकार के दस्तावेज प्रदान किए जाएंगे। इस योजना के अंतर्गत अब तक 1241 गांव के लगभग 1.80 लाख नागरिकों को कार्ड दिए गए हैं। उत्तर प्रदेश एवं हरियाणा में इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए तैयारी की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

हरियाणा में कई गांवों में सर्वे भी किया जा चुका है। यह सर्वे ड्रोन के माध्यम से किया जा रहा है । सर्वे करने की पूरी जिम्मेदारी सर्वे ऑफ इंडिया को सौंपी गई है। इस योजना के अंतर्गत किया जाने वाला पूरा खर्च केंद्र सरकार द्वारा वहन किया जा रहा है।

स्वामित्व योजना के अंतर्गत सर्वे प्रक्रिया

PM Swamitva Yojana के अंतर्गत ड्रोन के माध्यम से सर्वे किया जाता है। सर्वे करने के लिए कई चरण है। जीपीएस ड्रोन की मदद से एरिया सर्वे किया जाता है। इस सर्वे के माध्यम से गांव में बने हर घर की जियो टैगिंग की जाती है और प्रत्येक घर का क्षेत्रफल दर्ज किया जाता है। यह छेत्रफल दर्ज करने के बाद प्रत्येक घर को एक यूनिक आईडी प्रदान की जाती है। जो उस घर का पता भी होता है। इस प्रक्रिया के माध्यम से लाभार्थी का पूरा पता डिजिटल भी हो जाता है। अब इस योजना के माध्यम से जमीन जायदाद के झगड़े में कमी आएगी। पहले गांव के नागरिकों के पास लिखित दस्तावेज नहीं होते थे। पर अब सरकार द्वारा गांव के नागरिकों को लिखित दस्तावेज मुहैया कराए जाएंगे।

  • सर्वे की प्रक्रिया के दौरान ग्राम पंचायत के सदस्य, राजस्व विभाग के अधिकारी, गांव के जमीन मालिक तथा पुलिस की टीम मौजूद रहती है। जिससे कि लोगों की आपसी सहमति से उन्हें अपने दावे की जमीन प्रदान की जा सके। इसके पश्चात दवे वाली जमीन पर निशानदेही की जाती है।
  • जमीन मालिक चूना लगाकर अपने क्षेत्र पर घेरा बना लेता है। इसकी तस्वीर ड्रोन से खींची जाती है। ड्रोन के द्वारा यह प्रक्रिया गांव के चक्कर लगाकर पूरी की जाती है। इसके पश्चात कंप्यूटर की सहायता से जमीन का नक्शा तैयार किया जाता है।

पीएम स्वामित्व योजना संपत्ति कार्ड

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं कि अब तक सरकार के पास गांव की आबादी की जमीन का कोई भी रिकॉर्ड उपलब्ध नहीं था। इसी बात को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने स्वामित्व योजना आरंभ की थी। अब इस योजना के अंतर्गत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 अक्टूबर 2020 को देश 763 गांवों के 1.32 लोगों को आबादी की जमीन का मालिकाना हक के कागज सौंपेंगे। इस योजना के माध्यम से गांव की जमीन पर चले आ रहे विवादों से भी छुटकारा मिलेगा। 11 अक्टूबर 2020 को सरकार द्वारा मालिकाना हक के कागजों के साथ साथ डिजिटल प्रॉपर्टी कार्ड भी गांव के निवासियों को प्रदान किए जाएंगे।

स्वामित्व योजना का उद्देश्य (Objective Of Swamitva)

सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य देश के सारे नागरिको को भूमि की डिजिटल तरीके से देख-भाल करना, और उस भूमि के कारण होने वाले विवादों का निपटारा करना | हम सभी जानते है की देश में  24 अप्रैल को पंचायती राज दिवस बनाया जाता है जबकि इस बार लॉकडाउन के कारण Swamitva Yojana की शुरुआत करके ख़ुशी जाहिर की गयी | स्वामित्व योजना के उद्देश्य के द्वारा हमारे देश के सारे नागरिको को जमींन की मैपिंग की जायगी और झगड़ो को हटाया जायगा तथा जमींन मालिक को उनकी सारी भूमि का मालिकाना हक दिया जायगा | सरकार की तरफ से इस योजना के द्वारा एक संपत्ति कार्ड दिया जायगा इससे जमींन मालिक अपनी किसी भी भूमि का रिकॉर्ड घर बैठे ऑनलाइन अपने मोबाइल पर चेक कर सकते है। [

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना न्यू अपडेट

केंद्र सरकार की ओर से अभी तक केवल 10 जिलों को स्वामीत्व योजना के तहत चुना गया है और आने वाले सालो में सरकार के माध्यम से अन्य जिलों का चयन भी होगा, जिसका लाभ ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिको को दिया जाएगा। इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को उनकी जमीन का रिकॉर्ड उपलब्ध कराया जाएगा ताकि उन्हें बैंक से आसानी से कर्ज मिल सके। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के माध्यम से घोषणा की गई है, की यह पहली बार आवासीय भूमि का सर्वेक्षण किया जा रहा है। अभी तक यह योजना केवल यूपी महाराष्ट्र कर्नाटक हरियाणा मध्य प्रदेश और उत्तराखंड में लागू की गई है।

स्वामित्व योजना 200 करोड रुपए का बजट आवंटन

मंत्रालय द्वारा स्वामीत्व योजना के लिए 200 करोड़ रुपये का बजट आवंटन किया गया है, जबकि पिछले साल इस योजना के तहत पायलट परियोजना पर सरकार द्वारा 79.65 करोड़ रुपये का बजट आवंटन किया गया था। मंत्रालय को पता चला है कि इस योजना के तहत अब तक राज्य में लगभग 130 ड्रोन टीमों को तैनात किया गया है, जिसके मार्च 2021 तक 500 ड्रोन तैनात करने की उम्मीद है। इस वित्तीय वर्ष के लिए आवंटित बजट पिछले साल की तुलना में 32 प्रतिशत अधिक है। इस योजना के तहत 2021-22 तक 16 राज्यों के 2.30 लाख गांवों को निश्चित वित्तीय बजट में शामिल किया जाएगा।

स्वामित्व योजना आपत्ति दर्ज करने का समय

इस स्वामित्व योजना के द्वारा उस गाँव के नागरिकों का सरकार के माध्यम से सर्वेक्षण किया जाता है, जिसकी सूचना पहले से दी जाती है ताकि वे सभी लोग जो गाँव से बाहर हैं, उस दिन गाँव में मौजूद रहें। सरकार द्वारा गांव का पूरा नक्शा तैयार किया जाता है। इसके बाद उन सभी नागरिकों के नाम जिनके नाम जमीन है, उन सभी लोगों को पूरे गांव को सूचित किया जाता है। जिन नागरिकों को अपनी आपत्तियां दर्ज करानी हैं, वे न्यूनतम 15 दिनों और अधिकतम 40 दिनों में अपनी आपत्तियां दर्ज करा सकते हैं। जिन गांवों में कोई आपत्ति नहीं है, वहां राजस्व विभाग के अधिकारियों द्वारा भूमि के मालिक को जमीन के दस्तावेज दिए जाते हैं।

योजना का लाभ तथा विशेषताएं

  • प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का सबसे ज्यादा लाभ भूमि के झगड़ो का निपटारा करने के लिए हो सकेगा |
  • अब ग्रामीण जिलों के लाभारतीयो को भी कोई भी बैंक से बहुत आसानी से लोन मिल सकेगा |
  • ड्रोन मैपिंग के तहत सभी भूमि की देख-भाल की जायगी।
  • भूमि का सभी रिकॉर्ड अब भूमि के मालिकों के पास ऑनलाइन अपने मोबाइल के द्वारा चेक कर सकेंगे।
  • अब से 5 वर्ष पहले जब प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया था तब 100 ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड के अंतगर्त   से शामिल किया गया था |
  • परन्तु अब 1.32 लाख ग्राम पंचायतों को एक साथ इंटरनेट के अंतगर्त शामिल किया गया है |
  • देश के 6 राज्यों में प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को आरम्भ कर दिया गया है, परन्तु 2024 तक स्वामित्व योजना का लाभ देश के सभी गावों तक प्रदान किया जायेगा।

स्वामित्व योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

प्रधानमंत्री स्वामित्व में आवेदन करने के लिए आपको निचे दिए स्टेप्स को फॉलो करना पड़ेंगे।

  • सबसे पहले आपको स्वामित्व योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा | इसके बाद आपके सामने होपेज खुलकर आ जायगा |
  • होमपेज पर आपको नई रजिस्ट्रेशन ऑप्शन पर क्लिक करना है | इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आ जायगा |
  • इस फॉर्म में आपके बारे में कुछ जानकारी मांगी जायगी |
  • फॉर्म में पूछी गयी सारी जानकारी को दर्ज करने के बाद नीचे दिए गए Submit ऑप्शन पर क्लिक करें |
  • अब आप स्वामित्व योजना के अंतगर्त ऑनलाइन पंजीकरण कर चुके है |

स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड प्रक्रिया

  • देश के जो भी नागरिक स्वामित्व योजना के अंतगर्त प्रॉपर्टी कार्ड को ऑनलाइन डाउनलोड कराना चाहते है वे सारे नागरिक नीचे दी गयी डाउनलोड की ऑनलाइन प्रक्रिया का पालन करके इस योजना का लाभ ले सकते है।
  • हम आपको बता दे की जिस तरह से और अन्य योजनाओं के कार्ड या सरकारी कार्ड डाउनलोड किये जाते ये उस तरह से नहीं होगा |
  • यदि आप प्रॉपर्टी कार्ड को डाउनलोड कराना चाहते है तो कुछ टाइम का इंतजार करे जब देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा एक बटन दबाते ही लगभग एक लाख नागरिको के पास उनके मोबाइल पर एक लिंक आएगा |
  • उस लिंक पर क्लिक करते ही आपका संपत्ति कार्ड डाउनलोड हो जायगा | और कुछ टाइम बाद ग्राम पंचायतों द्वारा प्रॉपर्टी कार्ड को वितरित किया जा सकेगा |

PFMS डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

आप नीचे दी गयी आसान चरण दर चरण प्रक्रिया का पालन करके PFMS डैशबोर्ड  देख सकते है

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको रिपोर्ट्स सेक्शन के अंतर्गत “Dashboard” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आप डैशबोर्ड देख सकते है जहाँआपको निम्नलिखित विकल्प दिखाई देंगे :
    • Transaction Statistics
    • Scheme Statistics
    • Online Transaction Statistics
    • Online Pending Statistics
    • Scheme Component Expenditure Report
    • Online Payment Status Report
    • Sector Wise Dash Board
    • Planning & Reporting Dashboard
    • Panchayat Decision Support System (PDSS)
  • अपनी आवश्यकता के अनुसार लिंक का चुनाव करे और सम्बंधित डैशबोर्ड आपके सामने खुल जायेगा।

स्वामित्व योजना के पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खोलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको लॉगइन के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा। इसके बाद आपको इस पेज पर अपना फोन नंबर, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड की जानकारी भरनी होगी।
स्वामित्व योजना के पोर्टल पर लॉगइन

  • आपके द्वारा सभी जानकारी भरने के बाद, आपको लॉगइन के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा।
  • इस तरह आप आसानी से स्वामित्व योजना के पोर्टल पर लॉग इन कर पाएंगे।

स्वामित्व योजना के ब्राउचर/फ्लायर्स डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको ब्राउचर/फ्लायर्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने ब्राउचर/फ्लायर्स की सूची खुलकर आ जाएगी।
स्वामित्व योजना के ब्राउचर/फ्लायर्स डाउनलोड

  • अब आपको सूची में से अपनी आवश्यकतानुसार लिंक पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद ब्राउचर/ फ्लायर्स की सूची पीडीएफ फॉर्मेट में खुलकर आ जाएगी।
  • इसके बाद डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करके आप आसानी से ब्राउचर/ फ्लायर्स डाउनलोड कर पाएंगे।

स्वामित्व योजना के सभी महत्वपूर्ण डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खोलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर डाउनलोड के विकल्प को क्लिक कर देना होगा। इसके बाद एक नया पेज खुल कर आ जाएगा जिस पर सभी डाउनलोड की सूची दी होगी।
स्वामित्व योजना के सभी महत्वपूर्ण डाउनलोड
  • अब आपको सूची में से अपनी जरूरत की लिंक पर क्लिक करना होगा। ‌इसके बाद सभी महत्वपूर्ण डाउनलोड पीडीएफ फॉर्मेट में खुलकर आपके सामने आ जाएंगे।
  • इसके बाद‌ डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा इस तरह आप सभी महत्वपूर्ण डाउनलोड कर पाएंगे।

स्वामित्व‌ योजना के प्रॉपर्टी कार्ड डिस्ट्रीब्यूटेड रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खोलकर आ जाएगा।
  • होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद प्रॉपर्टी कार्ड डिस्ट्रिब्यूटेड के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब एक नया पेज खुल कर आ जाएगा।
स्वामित्व‌ योजना के प्रॉपर्टी कार्ड डिस्ट्रीब्यूटेड रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

फाइनल मैप जेनरेटेड रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको फाइनल मैप जेनरेटेड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
फाइनल मैप जेनरेटेड रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा।आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

ड्रोन सर्वेक्षण को देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल करआ जाएगा ।
  • वेबसाइट के होम पेज पर  रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा।‌ इसके बाद आपको ड्रोन सर्वेक्षण के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
ड्रोन सर्वेक्षण
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

डाटा एंट्री स्टेटस फॉर ड्रोन रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको डाटा एंट्री स्टेटस फॉर ड्रोन के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब सामने एक नया आपके पेज खुल जाएगा।
डाटा एंट्री स्टेटस फॉर ड्रोन रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको डाटा एंट्री स्टेटस फॉर  ड्रोन रिपोर्ट की जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

प्रॉपर्टी कार्ड प्रिपेयर्ड रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा ।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको प्रॉपर्टी कार्ड  प्रिपेयर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
प्रॉपर्टी कार्ड प्रिपेयर्ड रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

इंक्वायरी प्रोसेसिंग रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा ।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको इंक्वायरी प्रोसेसिंग विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
इंक्वायरी प्रोसेसिंग रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

चुनना मार्किंग कंप्लीटेड रिपोर्ट देखने की प्रक्रिय

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा ।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको चुनना मार्किंग विकल्प पर कंप्लीटेड क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
चुनना मार्किंग कंप्लीटेड रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा।
  • आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको चुनना मार्किंग कंप्लीटेड रिपोर्ट प्राप्त हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *