सुकन्या समृद्धि योजना एक सरकारी बचत योजना है जो "बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ" नामक पहल के तहत बालिकाओं को लाभ पहुंचाने के इरादे से बनाई गई है। 10 वर्ष या उससे कम उम्र की बालिका के माता-पिता या अभिभावक इस योजना के तहत खाता खोल सकते हैं। यह योजना कई कर लाभों के साथ उच्च ब्याज दर प्रदान करती है।

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना 2023: देश में बेटियों के उत्थान और उनकी स्थिति को बेहतर करने के उद्देश्य से केंद्र सरकार कई तरह की बचत योजनाओं की शुरुआत कर बेटियों को लाभान्वित करती है, ऐसी ही एक बचत योजना के माध्यम से माता-पिता को उनकी बेटियों के भविष्य हेतु बचत करने की सुविधा प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा पीएम सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के माध्यम से बेटी के माता-पिता अपनी 10 साल या उससे कम उम्र की बालिका का अकाउंट बैंक या ऑफिस में खोलकर भविष्य में उनकी उच्च शिक्षा और पढ़ाई के लिए बचत कर सकेंगे। SSY के तहत खता खोलने पर लाभार्थी बालिका को सरकार द्वारा 7.6% ब्याज प्रदान किया जाएगा, जिसका लाभ बालिका 21 वर्ष की होने के बाद प्राप्त कर सकेगी।

सुकन्या समृद्धि योजना 2023

सुकन्या समृद्धि योजना केंद्र सरकार द्वारा 2015 में शुरू की गई योजना है, जिसे बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओ अभियान के एक हिस्से के रूप में शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से सरकार बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए माता-पिता को बचत करने की सुविधा प्रदान करती है। एसएसवाई के तहत 10 साल या इससे कम आय की बालिका का खाता खुलवाया जा सकता है, अकाउंट खुलवाने के लिए न्यूनतम राशि 250 रूपये और अधिकतम राशि 1.5 लाख रूपये निर्धारित है, जिसमे आवेदक अपनी सुविधानुसार बेटी के खाते में पैसे जमा कर सकते हैं, जिसमे लाभार्थी को खाता खोलने की तिथि से 14 साल तक खाते में पैसे जमा करने होंगे। जिसके बाद बालिका के 21 वर्ष की होने के बाद वह खाते में एकमुश्त रकम निकल सकेंगी, बालिका चाहे तो 18 वर्ष की होने पर भी बैंक से 50% राशि पैसे निकाल सकेगी।

योजना का नामप्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना
शुरू की गईकेंद्र सरकार द्वारा
आरम्भ तिथि22 जनवरी, 2015
वर्ष2023
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन प्रक्रिया
लाभार्थीदेश की बालिका
उद्देश्यबेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने
हेतु बचत की सुविधा प्रदान करना
योजना का प्रकारकेंद्र सरकारी योजना
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://ndia.gov.in/sukanya-samriddhi-yojna

पीएम सुकन्या समृद्धि योजना के लाभ एवं विशेषताएं

योजना के तहत लाभार्थी को मिलने वाले लाभ की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • पीएम सुकन्या समृद्धि योजना के माध्यम से नागरिक अपनी बेटी भविष्य के लिए धनराशि जमा कर सकेंगे।
  • योजना के तहत 10 साल या उससे कम की बेटी के नाम पर खाता खुलवाकर आवेदक न्यूनतम 250 रूपये या अधिकतम 150000 रूपये राशि अपनी सुविधा अनुसार जमा कर सकते हैं।
  • SSY योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन बैंक या पोस्ट ऑफिस में बेटी का खाता खोल सकते हैं।
  • योजना के तहत आवेदन को सरकार द्वारा 7.6% ब्याज प्रदान किया जाएगा।
  • आवेदक बालिका का खाता खोलने की तिथि से 21 साल की आयु तक खाता मैच्योर हो जाता है।
  • योजना के तहत आवेदक बालिका चाहे अपनी उच्च शिक्षा या जरूरत के लिए 18 वर्ष होने पर भी पैसों की निकासी कर सकती है, लेकिन इस समय वह केवल 50 % राशि ही निकाल सकेगी।
  • योजना के अंतर्गत आवेदक बालिका का खाता एक डाकघर या बैंक से दूसरे डाकघर या बैंक में भी ट्रांसफर किया जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना में 1000 रूपये से एसएसवाई खाता खोला जा सकता है।
  • इस योजना के तहत एक परिवार की दो बालिकाएं लाभान्वित हो सकेंगी।
  • इनकम टेक्स सेक्शन 80-C के तहत सुकन्या समृद्धि योजना में इन्वेस्ट टैक्स में छूट का लाभ मिलेगा।
  • इस योजना के जरिए मिलने वाले ब्याज पर सरकार कोई भी टैक्स नहीं लगाएगी बल्कि इससे आपकी जमा राशि ब्याज से बढ़ेगी।
  • योजना के तहत खाता खुलवाने से लेकर 14 साल तक आपको इसमें नियमित रूप से निवेश करना होगा।
  • सुकन्या समृद्धि यजना के नागरिक अपनी बेटी के विवाह एवं उच्च शिक्षा में होने वाले खर्चे और आवश्यकताओं की पूर्ति बिना किसी आर्थिक समस्या के पूरी कर सकेंगे।

SSY योजना के अंतर्गत नए बदलाव

केंद्र सरकार की और से सुकन्या समृद्धि योजना में 5 नए बदलाव किए गए हैं, जिनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • योजना के अंतर्गत आवेदक को एक साल में खाते में नियमित रूम से न्यूनतम 250 रूपये जमा करना अनिवार्य है, लेकिन अगर लाभार्थी द्वारा यह राशि जमा नहीं की जाती तो उनका खाता डिफॉल्ट माना जाएगा। नए नियमों के मुताबिक अगर SSY अकाउंट को दोबारा एक्टिवेट नहीं किया गया तो लड़की के मच्योर होने तक आपके डिफॉल्ट खाते पर 2019 के नए नियम के अनुसार आपको निर्धारित 7.6% ब्याज दर मिलता रहेगा।
  • सुकन्या समृद्धि योजना में एक परिवार की केवल एक बेटी के नाम से ही खाता खोला जा सकता है, लेकिन अगर दूसरी संतान जुड़वा बेटियां होती है, तो दोनों के नाम पर खाता खोला जा सकता है।
  • योजना के तहत लाभार्थी बालिका का खता दो परिस्थितियों में बंद कर दिया जाता है पहला बेटी की मृत्यु हने पर और दूसरा बेटी के निवास स्थान में परिवर्तन होने पर लेकिन नए बदलाव के बाद अब यदि बेटी के अभिभावक की किसी कारणवर्ष मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में भी खाता बंद कर दिया जाता है।
  • SSY में पहले लाभार्थी बालिका को 10 साल की आयु में ही खाते का संचालन सौंप दिया जाता था, लेकिन अब नए नियमों के अनुसार लाभार्थी बालिका जब तक 18 साल की नहीं हो जाती तब तक वह खाते का संचालन स्वयं से नहीं कर सकती है, बालिका के 18 वर्ष पूरे होने तक उसके अभिभावकों द्वारा खाते का संचालन किया जाता है।
  • नए नियमों के मुताबिक खाते में गलत ब्याज वापस करने के प्रावधान में बदलाव किया गया है, साथ ही खाते का सालाना ब्याज हर साल के अंत में जमा किया जाएगा।

सुकन्या समृद्धि योजना की पात्रता

सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को इसकी निर्धारित पात्रताओं को पूरा करना होगा, जिसके बाद ही योजना में आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो सकेगी, ऐसी सभी पात्रता की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • योजना में आवेदन के लिए आवेदक भारत के स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • SSY के अंतर्गत नवजात शिशु से लेकर 10 साल तक की बालिका आवेदन हेतु पात्र होगी।
  • योजना के अंतर्गत केवल एक बालिका के नाम से ही खाता खुलवाया जा सकेगा।
  • एक परिवार की केवल दो बेटियां ही योजना में आवेदन हेतु पात्र होंगी।
  • यदि एक बेटी के बाद दो जुड़वा बेटियां होती हैं, तो वह दोनों भी आवेदन के पात्र होंगी।

Sukanya Samriddhi Yojana हेतु आवश्यक दस्तावेज

योजना में आवेदन के लिए आवेदक के पास सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है, बिना पूरे दस्तावेजों के योजना में आवेदन की प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकेगी, ऐसे सभी दस्तावेजों की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • बेटी का जन्म प्रमाण पत्र
  • माता-पिता की आईडी प्रूफ
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र

पीएम सुकन्या समृद्धि योजना ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया

योजना में आवेदन के लिए जो आवेदक अपनी बेटी का खाता खुलवाना चाहते हैं, वह ऑफलाइन माध्यम से आवेदन की प्रक्रिया को सकते हैं, आवेदन के लिए ऑफलाइन प्रक्रिया की जानकारी आप यहाँ बताए गए स्टेप्स को पढ़कर जान सकेंगे।

  • इसके लिए सबसे पहले उम्मीदवार अपने नजदीकी डाकघर या सरकारी बैंक शाखा में विजिट करें।
  • यहाँ आप शाखा के अधिकारी से सुकन्या समृद्धि योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • फॉर्म प्राप्त करके आपको उसमे पूछी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरनी होगी।
  • सारी जानकारी भरकर आपको फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच कर देना होगा।
  • अब आखिर में फॉर्म की अच्छे से जांच कर लें यदि कोई जानकारी छूट जाती है तो उसे भर लें।
  • फॉर्म को पूरी तरह से भरकर उसे पोस्ट ऑफिस या बैंक शाखा में ही जमा करा दें।
  • इस तरह आपकी सुकन्या समृद्धि योजान में ऑफलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

सुकन्या समृद्धि योजना में ऐसे चेक करें बैलेंस

योजना के अंतर्गत जो लाभार्थी अपना बैलेंस चेक करना चाहते हैं, वह की तरह से अपना बैलेंस चेक कर सकते हैं। इसके लिए आप चाहे तो पासबुक की एंट्री करवाकर अपने खाते का बैलेंस चेक कर सकते हैं, इसके अतिरिक्त आप आईपीपीबी मोबाइल ऐप को डाउनलोड करके या आधिकारिक पोर्टल पर जाकर SSY खाते की बकाया राशि चेक कर सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *